REET Level 1 क्या होता है? जानें पूरी जानकारी

आज के इस लेख में हमने REET Level 1 क्या होता है और इसके लिए कौन पात्र हो सकता है इसके बारे में बताया है। अगर आप राजस्थान के निवासी है और टीचर बनाना चाहते हैं तो यह लेख आपके लिए उपयोगी साबित हो सकता है।

REET (Rajasthan Eligibility Examination for Teachers) शिक्षक बनने के इच्छुक व्यक्तियों की का आकलन करने के लिए राजस्थान राज्य में आयोजित की जाने वाली एक महत्वपूर्ण परीक्षा है। परीक्षा का प्रबंधन माध्यमिक शिक्षा बोर्ड, राजस्थान (BSER) द्वारा किया जाता है। आइये अब विस्तार से रीट लेवल 1 के बारे में जानते हैं।

REET Level 1 क्या होता है? जानें पूरी जानकारी

REET Level 1 क्या होता है?

REET में दो स्तर हैं: Level 1 और Level 2. REET Level 1 उन लोगों के लिए है जो कक्षा I से V तक के छात्रों को पढ़ाना चाहते हैं, जबकि Level 2 उन लोगों के लिए है जो कक्षा VI से VIII तक पढ़ाने के इच्छुक हैं। अध्ययन के लिए प्रत्येक स्तर की अपनी आवश्यकताएं और विषय हैं।

REET Level 1 विशेष रूप से उन उम्मीदवारों के लिए है जो राजस्थान में कक्षा I से V तक के स्कूली बच्चों को पढ़ाना चाहते हैं। इस परीक्षा का मुख्य उद्देश्य प्राथमिक स्तर पर पढ़ाने के लिए उम्मीदवारों की योग्यता और क्षमताओं का मूल्यांकन करना है। स्तर 1 परीक्षा में बाल विकास, शिक्षण विधियों, भाषा कौशल, गणित, पर्यावरण अध्ययन और सामाजिक अध्ययन जैसे विषय शामिल होते हैं।

REET Level 1 की परीक्षा सफलतापूर्वक उत्तीर्ण करने पर, उम्मीदवार पूरे राजस्थान के सरकारी और सरकारी सहायता प्राप्त प्राथमिक विद्यालयों में शिक्षण पदों के लिए आवेदन करने के योग्य हो जाते हैं। आपको इस बात की जानकारी होनी चाहिए कि REET Level 1 की परीक्षा के लिए पाठ्यक्रम में साल-दर-साल मामूली बदलाव हो सकते हैं इसलिए, आपसे अनुरोध है कि सबसे सटीक और अद्यतित जानकारी के लिए संचालन प्राधिकरण द्वारा प्रदान की गई आधिकारिक अधिसूचनाओं और दिशानिर्देशों को देखें।

यह भी देखें: Entrance Exam क्या होता है

रीट लेवल 1 के लिए कौन पात्र है?

योग्यता: आरईईटी स्तर 1 के लिए पात्र होने के लिए, उम्मीदवारों को निम्नलिखित मानदंडों को पूरा करना होगा:

  • Nationality: उम्मीदवारों को भारतीय नागरिक होना चाहिए।
  • Age Limit: इस परीक्षा में उपस्थित होने के लिए कोई आयु सीमा निर्दिष्ट नहीं है।
  • Educational Qualification:: उम्मीदवारों ने कम से कम 50% अंकों के साथ अपना सीनियर सेकेंडरी (या इसके समकक्ष) पूरा किया हो और 2 साल के डिप्लोमा इन एलीमेंट्री एजुकेशन (D.El.Ed.) के अंतिम वर्ष में उत्तीर्ण हुए हों। वैकल्पिक रूप से, 4-वर्षीय बैचलर ऑफ एलीमेंट्री एजुकेशन (B.El.Ed.) डिग्री या 2-वर्षीय डिप्लोमा इन एजुकेशन (विशेष शिक्षा) वाले उम्मीदवार भी पात्र हैं।
  • Qualifying Marks: रीट लेवल 1 परीक्षा में न्यूनतम 60% अंक (150 में से 90) प्राप्त करने की आवश्यकता होती है। हालांकि, राजस्थान सरकार के नियमों के अनुसार आरक्षित श्रेणी के उम्मीदवारों के लिए मानदंड में छूट दी गई है।
  • Validity and Certification: रीट प्रमाणपत्र परिणाम घोषित होने की तारीख से तीन साल की अवधि के लिए ही वैध है। प्रमाण पत्र माध्यमिक शिक्षा बोर्ड, राजस्थान द्वारा जारी किया जाता है और राज्य में प्राथमिक शिक्षक रिक्तियों के लिए आवेदन करने के लिए पात्रता के प्रमाण के रूप में कार्य करता है।

सवाल जवाब

रीट लेवल 1 और 2 में क्या अंतर है?

रीट लेवल 1 कक्षा I से V (प्राथमिक स्तर) को पढ़ाने के लिए है, जबकि रीट लेवल 2 कक्षा VI से VIII (उच्च प्राथमिक स्तर) को पढ़ाने के लिए है।


रीट लेवल 1 की सैलरी कितनी है?

REET वेतन INR 44,300 है।

रीट के फॉर्म की फीस कितनी है?

लेवल 1 के लिए फॉर्म की फीस ₹550 है।

इस लेख में हमने रीट लेवल 1 क्या है और इसके लिए कौन पात्र है इन सबके बारे में जाना, उम्मीद है यह लेख आपके लिए उपयोगी रहा होगा। इस आर्टिकल से सम्बंधित कोई भी सवाल हो तो नीचे कमेंट बॉक्स में अवश्य पूछें।